Home » , , , , , , , » माँ बहन की चुदाई कहानियाँ विथ सेक्स फोटो

माँ बहन की चुदाई कहानियाँ विथ सेक्स फोटो

Maa Behan Ki Chudai Kahani xxx Desi Antarvasna Group Sex Story, भाई ने अपने मोटे लंड से माँ और बहन को एक साथ चोदा, Maa behan ki chudai stories with sex photo,चुदाई की कहानी विथ सेक्स फोटो, Maa Ki Gand Chudai Aur Behan Ki Choot Chudai,माँ और बहन की एक साथ चुदाई,Desi xxx Kamasutra Sex Kahani,

एक दिन जब मुझे अचानक स्कूल से जल्दी छुटी हो गयी और मैं घर वापिस आई तो मुझे अपनी मा के रूम से कुच्छ अजीब सी आवाज़ें सुनाई दीं और मैं देखने के लिए मा के रूम की तरफ गयी.जब मैने रूम के अंदर झाँक कर देखा तो मेरे पावं तले से ज़मीन खिसक गयी क्योकि मा के रूम मे मेरी मा और मेरा भाई जॉनी दोनो बिल्कुल नंगे थे और जॉनी भैया मा की चुद चाट रहे थे और मा जॉनी भैया का लंड चुस्स रही थी.फिर थोरी देर बाद मा ने भैया का लंड अपने मूह से निकाला तो मैं अपने भाई का लंड देख कर दग रह गयी क्योकि जॉनी भैया का लंड लगभग 10 इंच लंबा और 3 इंच मोटा था.
भैया का लंड देख कर मेरे पूरे जिस्म मे अजीब सी सनसनी फैल गयी और मेरी छूट मे तेज खुजली होने लगी और मेरा दिल भी भैया से चूड़ने को करने लगा और मेरा मान काइया के अभी मा को भैया के पास से भगा दूं और खुद अपनी छूट खोल कर भैया का लंड अपनी छूट मे घुस्सा लूँ.तभी भैया ने मा की दोनो टाँगे उप्पर उठा कर अपना लंड मा की चुद पर रखा और एक जोरदार धका मारा और भैया का 10 इंच लंबा लंड मा की छूट मे समा गया और मा भी अपनी गंद उठा कर चूड़ने लगी, मा चूड़ते हुए अहह ऑश कर रही थी.भैया भी पूरे जोश से मा की चुदाई कर रहे थे और अब मुझसे भी इन दोनो की चुदाई देखी नही जा रही थी और मैने भी अपनी सलवार खोल कर अपने हाथ से अपनी छूट को मसालने लगी.पर अब मुझसे बर्दाश्त नही हो रहा था और मैं रूम का डोर खोल कर अंदर गयी और चीखते हुए बोली ये क्या हो रहा है मेरी आवाज़ सुन कर मा और भैया दोनो चोंक गये और मेरी तरफ देखने लगे भैया का लंड अभी भी मा की छूट मे ही था.ये सेक्स कहानियाँ,हिंदी चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मैने फिर चिल्लाते हुए कहा मा ये क्या हो रहा है तो भैया ने एक झटके मे अपना लंड मा की चुद से निकाला और मा भी जल्दी से उठ कर अपने कपड़े पहनेने लगी और तभी मा की नज़र मुझ पर पड़ी और मुझे देख कर मा को कुच्छ राहत मिल्ली क्योकि मैं भी नीचे से नंगी थी और मैं अपनी सलवार पहले ही उत्तर चुकी थी.फिर मा मेरे पास आई और बोली रितु तू जब आई तो मैने गष्ज़ेट मे कहा मा तुम दोनो को शरम आनी चाहिए ये सब करते हुए और मैं रूम से बाहर जाने लगी.तभी मा ने मुझे पकड़ कर मुझे भैया की तरफ धका दे दिया और मैं सीधे भैया के उप्पर जा कर गिररी और भैया का लंड मेरे पेट मे चुबने लगा और मा ने कहा बेटा आज इस साली रंडी को भी चोद डालो इस साली रंडी की छूट मे भी खुजली हो रही है और आज तुम अपने घड़े जैसे लंड से अपनी बहें की छूट की खुजली मिटा दो, और भैया ने भी मुझे अपनी बाहों मे जाकड़ लिया और मेरे होंठ चूमने लगे.अब मे भी गर्म होने लगी और मेरा एक हाथ खुद ही भैया के लंड पर छल्ला गया और भैया का लंड जब मेरे हाथ मे आया तो लंड इतना गर्म था की एक बार तो मुझे लगा के मेरे हाथ मे कोई गर्म लोहे का रोड आस गया है.

भाई ने अपने मोटे लंड से माँ और बहन को एक साथ चोदा,Desi amateur xxx hindi sex story,xxx kahani

फिर मा भी मेरे पास आई और मेरे कपड़े उतरने लगी और मा ने मुझे पूरी नंगी कर दिया मा और भैया तो पहले से ही नंगे थे अब हम तीनो ही पूरे नंगे थे और टोनी भैया मेरे जिस्म से खेल रहे थे और मैं भी मज़े से अहह ओह करने लगी.जॉनी भैया का आम हाथ मेरे कचे नींबू जैसे चुचि पर था और मेरी दूसरी चुचि को भैया ने अपने मूह मे लेकर चूसने लगा और दो हाथ से मेरी छूट को मसालने लगे, भैया का हाथ मेरी छूट पर पड़ते ही मेरी छूट ने पानी छोड़ दिया और भैया का हाथ मेरी छूट के पानी से पूरी तरह से भीग गया.और भैया ने अपने हाथ से मेरी छूट का पानी छत कर सॉफ कर दिया, ये सेक्स कहानियाँ,हिंदी चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर भैया ने अपना लंड पकड़ कर मेरे मूह मे घुस्सा दिया और मैं भैया का लंड अपने मूह मे लेकर चूसने लगी मुझे भैया के लंड का स्वाद बहुत अच्छा लगा.फिर भैया ने मुझे बेड पर लिटा दिया और मेरी दोनो टाँगे फैला दीं और मेरी छूट को चूम लिया और मेरी छूट को चूम कर बोले रितु तेरी चुद के बाल बहुत बड़े हैं.पहले मैं तेरी छूट के बाल सॉफ कर देता हूँ और ये कह कर भैया ने मुझे अपनी गोद मे उठा लिया और भैया का लंड मेरी गंद को टच करने लगा और भैया मुझे बातरूम मे ले गये और पहले मेरी चुद को अच्छी तरह से पानी आस सॉफ काइया और फिर मेरी छूट पर साबुन लगा कर रेज़र के साथ मेरी छूट के बाल सॉफ कर दिए.बाल सॉफ होने के बाद मेरी कोमल छूट चमक उठी और भैया ने मेरी छूट को चूम लिया और अपनी झिब से मेरी छूट को चाटने लगे, तभी मुझे ज़ोर से पेशाब लगी और मैने भैया का मूह अपनी छूट से हटा दिया और मूतने लगी मेरी छूट से मूत की मोटी धार सी सी आवाज़ से बहने लगी.तभी भैया ने अपना मूह मेरी छूट से लगा लिया और मेरे मूत पीने लगे, जब मैं मूत चुकी तो भैया ने अपनी झिब से मेरी छूट को छत कर अच्छी तरह से सॉफ कर दिया.

भाई ने मौका पाकर चोद दिया,Mujhe apne bhai ne choda, Bhai ne meri maa ko choda, Sex kahani

फिर मुझसे बोले अरे वा अनु तेरे मूत का टेस्ट तो बहुत अच्छा है, और मुझे फॉर अपनी गोड मे उठा लिया और मेरी गंद को अपने लंड पर रख कर मुझे वापिस रूम मे ले आए, रूम मे आ कर भैया ने मुझे बेड पर लिटा दिया और मेरी छूट को चाटने लगे और अपना लंड मेरे मूह मे दल दिया.अब हम 69 की पोज़िशन मे थे और मैं भैया का लंड चुस्स रही थी और भैया मेरी छूट को छत रहे थे, थोरी देर बाद मेरी छूट मे फिर पानी छ्चोड़ दिया और भैया मेरा पूरा पानी पी गये.अब भैया का लंड भी मेरी चूसा से अपने पूरे जोश मे आ गया और मेरी छूट फाड़ने को तट था और तभी मा ने जॉनी भैया का लंड पकड़ा और मेरी छूट पर लगते हुए बोली ले बेटा अब अपना 10 इंच लंबा लंड अपनी बहें की चुद मे घुस्सा कर इश्स साली को अपनी रंडी बना ले.मा ने भैया के लंड का सूपड़ा मेरी छूट के सुराख पर रख दिया और भैया को ढाका लगाने के लिए बोली और भैया ने एक हल्का आस ढाका मेरी छूट मे मेट और भैया का लंड मेरी छूट से फिसल गया और मेरे पेट पर आ गया और मेरे मूह से आहह निकल गयी.ये सेक्स कहानियाँ,हिंदी चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मा ने फिर भैया के लंड का सूपड़ा मेरी छूट पर अच्छी तरह से रखा और बोली बेटा अब मैने तेरे लंड को तेरी बहें की छूट पर अच्छी तरह से लगा दिया है और भैया ने फिर एक हल्का सा ढाका मारा और भैया के लंड का सूपड़ा मेरी छूट मे घुस्स गया और मेरी छूट मे दर्द होने लगा.भैया ने एक और ढाका मारा और भैया का लंड मेरी छूट की सील तोड़ता हुआ मेरी छूट मे घुस्स गया और मेरी छूट से खून की धार निकल कर भैया के पेट पर पड़ी और मैं दर्द से चिल्लाने लगी.तभी मेरी मा ने अपनी छूट मेरे मूह पर रख दी ताकि मेरे मूह से चीख मे निकल सके और भैया को बोली टोनी अब रुकना मेट आन तेरी बहें की छूट की सील तूने तोड़ दो है और अपना घड़े जैसा लंड अपनी बहें की छूट मे पूरा घुस्सा दो.

माँ के कहने से दीदी को चोदा, Didi ki chudai,Behan ki chudai,Bhai ne behan ko choda sex story

भैया ने फिर एक जोरदार ढाका मेरी छूट मे मारा और भैया का आधा लंड मेरी छूट मे घुस्स गया और भैया ने फिर एक जोरदार ढाका मारा और अब भैया का 10 इंच लंड मेरी छूट मे घुस्स कर मेरी छूट की झाड़ तक लग गया और मेरी छूट मे बहुत तेज दर्द होने लगा..और मा ने अपनी छूट का दबाव मेरे मूह पर बड़ा दिया और मेरे मूह से चीख ना निकल सकी और भैया भी अब मेरी एक चुचि उप हाथ और एक चुचि को मूह मे लेकर चूसने लगा.थोरी देर बाद जब मेरा दर्द कुच्छ कम हुए और मुझे भी अब मज़ा आने लगा तो मैं अपनी गंद उठा कर नीचे से ढके लगाने लगी और मा की छूट मे अपनी झिब फेरने लगी, ये सेक्स कहानियाँ,हिंदी चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। अब भैया भी मेरी छूट मे धीर्रे धीर्रे ढके लगाने लगा भैया के ढकों से मुझे मज़ा आने लगा.तभी मा की छूट ने अपना पानी मेरे मूह मे छ्चोड़ दिया और मैं मा की छूट का सारा पानी पी गयी और मा आन मेरे उप्पर से उठ गयी और जॉनी भैया को बोली आने भोसड़ी के कूटे साले अब धीर्रे धीर्रे ढके किउन लगा रहा है तेरी बहें अब तेरे लंड के ढके सहने के लिए तट है अब तू अपने ढकों की स्पीड बड़ा.ये सुन कर जॉनी भैया ने अपने लंड की आधा मेरी छूट से बाहर निकाला और फिर एक जोरदार ढके से अपना पूरा लंड फिर से मेरी चूत मे पेल दिया मैं इतना जोरदार ढके के लिए त्यआर नही थी और जब भैया का लंड मेरी चूत की झाड़ तक गया तो मेरे मूह से सिसकी निकल गयी.मैं भैया के नीचे से अपनी गंद उठा कर बोली अरे बहें छोड़ साले अब छोड़ तू अपनी बहें को और अपनी बहें की छूट को फाड़ कर भोसड़ा बना दे ये सुन कर भैया को जोश आ गया और वो पूरी स्पीड से मुझे छोड़ते हुए मुझे गली देने लगा और कहने लगा मे साली रंडी कुटिया ले अब देख अपने भाई का कमाल.वो जानवर की तरह मुझे छोड़ने के साथ मेरे जिस्म उप काटने लगा और मेरी गाल पर ज़ोर से काट लिया अब मैं भी पूरे जोश मे अपने भाई से चूड़ने लगी और आआआः ऊऊओ करने लगी और बोलने लगी..ओह बहें छोड़ साले छोड़ अपनी बहें को साले तेरे लंड की चोट मेरी बछेड़नी पर पद रही है और मुझे बहुत मज़ा आस रहा है मेरे राजा मेरे भैया अब ज़ोर से छोड़ मुझे और मैं अपनी गंद को उठा उठा कर चूड़ने लगी.

मम्मी के कहने से उनकी सहेली को चोदा, Desi sex xxx kamuk kahani,Antarvasna sex stories

मेरी छूट ने अपना पानी छ्चोड़ दिया पर भैया पर इसका कोई सीट नही हुए और वो अब भी मुझे गली देते हुए छोड़े जा रहे थे और मुझे छोड़ते हुए ब्लोआ ले साली कुटिया पहले तेरी मा को छोड़ने और अब मैं तुझे भी छोड़ कर अपनी रंडी बना लूँगा और तू आज के बाद अपने भाई की रखैल बन कर रहेगी.फिर मैं अपनी गंद उठाते हुए बोली आबे बहें छोड़ साले पहले अपनी बहें को अच्छी तरह से छोड़ तो ले फिर अपनी मा के साथ अपनी बहें को भी अपनी रखैल बना लेना साले अपनी मा का फटा हिज़ भोसड़ा छोड़ कर मर्द बन रहा है अपनी बहें की छूट छोड़ कर ठंडी करे तो मैं तुझे असली मर्द मनु आस साले छोड़ अपनी बहें को और अपनी बहें को छोड़ कर अपनी बहें की छूट का भोसड़ा बना दे.ये सुन कर टोनी भैया तो जैसे पागल ही हो गये और मुझे गली देते हुए बोले साली पहले तेरी मा मेरी मर्दानगी को ललकार्ती थी और अब साली तो आज मुझे ललकार रही है तो अब त्यआर तो जा अपने भाई की मर्दानगी देखने के लिए.ये सेक्स कहानियाँ,हिंदी चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। भैया पुंजाबमैल की स्पीड से मुझे छोड़ने लगे और मैं भी अब मज़ा ले ले कर चूड़ने लगी और अपनी गंद मटकती हुई आअहह ऊऊऊः ओहो भैया ज़ोर से और ज़ोर से छोड़ो आहह भैया तेरे लंड की चोट मेरी बछेड़नी पर पद रही है आआआहह भैया छोड़ो और ज़ोर से आआआआः ऊऊओ बहें छोड़ छोड़ अपनी बहें को आआआः ऊवू.फिर मेरी छूट ने अपना पानी छ्चोड़ दिया और भैया अब्भी मुझे छोड़े जा रहे थे और अब मुझसे भैया के लंड की चोट बर्दाश्त नही हो रही थी और मैं भैया के आगे गिड़गिदते हुए भैया को अपना लंड निकालने के लिए बोलने लगी..और बोली भैया अब मेरी छूट से अपना लंड बाहर निकल लो मैं आपके आगे हाथ जोड़ती हूँ प्लीज़ भैया मुझे छ्चोड़ दो पर भैया पर मेरे गिड़गिदने का कोई असर नही हुआ और भैया ने अपने ढकों की स्पीड और बड़ा दी..और बोलने लगे साली अभी तो अपने भाई की मर्दानगी को ललकार रही थी और अभ बॉलरही है के मैं तुझे छ्चोड़ दूं अभी तो मेरे लंड को जोश आया है अब ले अपने भाई का लंड और बना दे मुझे पका बहें छोड़ और मेरे सिर के बाल पकड़ कर छोड़ने लगे.

भाई ने चूत माँगा अपने बर्थडे पर और,Bhai ne choda hum maa beti ko ek sath, Chudai kahani

करीब 1 घंटे की चुदाई के बाद भैया के लंड से विरगे की पिचकारी मेरी छूट मे फुट पड़ी और भैया मेरे उप्पर ही पड़े रहे और जब भैया के लंड से पूरा विरगुए मेरी छूट मे झाड़ गया तोहभैया ने अपना लंड खींच कर मेरी छूट से निकाला और भैया का लंड फच की आवाज़ से मेरी छूट से बाहर निकला.जब मैने भैया का लंड देखा तो भैया का लंड मेरी छूट के खून से लाल था और मेरी छूट का खून भैया के पेट पर भी लगा हुआ था मैं इतना खून देख कर दर्र गयी और मा उप पुच्छने लगी के मा काइया मेरी छूट भैया के लंड ने फाड़ दी.तो मा मेरी छूट को देख कर हेस्ट हुए भैया का लंड पकड़ कर बोली नही बेटी ये तो आज तेरे भाई के लंड से तेरी छूट की सील टूटी है और तेरी छूट ने अपनी सील टूटने का जशन तेरे भाई के लंड को अपना खून पीला कर मनाया है और भैया का लंड पकड़ कर खेलने लगी.ये सेक्स कहानियाँ,हिंदी चुदाई की कहानी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर जब मैं बिस्तेर से उठने लगी तो मेरी छूट मे बहुत तेज दर्द होने लगा और भैया ने मुझे अपनी बाहों का सहारा दे कर खड़ा काइया और जब मैं खड़ी हुई तो मेरी छूट से भैया का विरगुए और मेरी छूट का खून निकलने लगा और पूरी बेडशीट भी मेरी छूट के खून से लाल हो गयी थी.उसके बाद भैया ने मा को भी छोड़ा और जब भैया मा को छोड़ चुके तो मैने मा से पुचछा मा काइया जब तेरी छूट की सील टूटी थी तो तुझे बुत इतना दर्द हुआ था और इतना ही खून भी निकला था.तो मा ने कहा नही अनु तेरे पापा का लंड तो तेरे भाई के लंड से आधा भी नही था और तेरे पापा मुझे कभी भी अच्छे से छोड़ नही सके अगर तुम दोनो मेरी छूट से ना निकले होते तो इश्स उमर मे तेरे भाई के लंड से चूड़ना मेरे बस की बेस्ट नही थी, फिर यूयेसेस रात भैया ने मुझे और मा को खूब छोड़ा.उसके बाद भैया हम दोनो मा बेटी को खूब चोदते हैं और अब तो मेरी चुद का सुराख भी लगभग 2 इंच खुल गया है.....कैसी लगी माँ बेटी की एक साथ चुदाई कहानी , अच्छा लगी तो जरूर रेट करें और शेयर भी करे ,अगर कोई मेरी माँ की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे ऐड करो Bada lund ki pyasi desi housewife

1 comments:

Chudai ki xxx kahani,hindi sex kahani,chudai kahani,chudai ki story

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter